This website is in read only mode. To be the part of New YoAlfaaz community, click the button.
+3 votes
23 views
shared in Shayari by
परिन्दें रुक मत तुझमे जान बाकि है
मंज़िल दूर है , उड़ान अभी बाकि है
आज नहीं तो कल मुठ्ठी में होगी दुनिया
लक्ष्य पर अगर तेरा ध्यान बाकि है
यूँ नहीं मिलती मंज़िले , इम्तिहान अभी कई बाकि है
जिंदगी की जंग में हौंसला जरूरी है
हौंसला रख अभी जीत के लिए सारा जहाँ बाकि है
commented by
the ending was nice brother, really liked it :)

Related posts

+4 votes
0 replies 51 views
+1 vote
0 replies 19 views
+6 votes
0 replies 107 views
+4 votes
0 replies 71 views
+3 votes
0 replies 30 views
Connect with us:
...