This website is in read only mode. To be the part of New YoAlfaaz community, click the button.
+4 votes
35 views
shared in Essay by
2 अक्टूबर का दिन बहुत महान है क्योंकि इस दिन हमारे देश के राष्ट्रपिता " महात्मा गांधी " ने जन्म लिया था।
बापू सिर्फ एक व्यक्ति नहीं थे बल्कि वो एक विचारधारा थे जो आज भी जिन्दा है।उन्होंने "सत्य और अहिंसा" को एक नई शक्ति दी और इसकी रौशनी से पूरे जगत को रौशन किया।
हमेशा उन्होंने सत्य मार्ग को ही चुना.....
              आज भारत देश में बहुत ज्यादा अशांति है,कोई धर्म के नाम पर लड़ रहा है तो कोई जात के नाम पर हिंसा कर रहा है।नारी न तो घर में सुरक्षित है और न चौखट के बाहर.....कन्या को कोख में भी आने की अनुमति नहीं मिलती है....बेटी की डोली दहेज की आग में जल जाती है।
इन तमाम तकलीफो के बावजूद हमारे पास उम्मीद है....एक बदलाव की और उस उम्मीद का नाम है " सत्य और अहिंसा ".....
अगर हम अपनी बुरी सोच को बदल सके तो ये सच्ची श्रद्धांजलि होगी बापू को।
commented by
Very well written...
commented by
superb anugunja :)
commented by
Thank you so much....i requested all of you,please watch my new short film on YouTube.my new film is tribute to our father of nation " Gandhi ji ".my film name is " My BAPU short film by anugunja ".its a very humble request.

Related posts

+2 votes
0 replies 37 views
+6 votes
0 replies 105 views
+5 votes
0 replies 35 views
+6 votes
0 replies 32 views
+3 votes
0 replies 54 views
+1 vote
0 replies 9 views
Connect with us:
...