This website is in read only mode. To be the part of New YoAlfaaz community, click the button.
+5 votes
50 views
shared in Song by

न दिल चाहिए न दर्द चाहिए

न आहें हमें कोई सर्द चाहिए

न रिश्तो का ढोंग न नातों का नाम

रहने दो हमें कहीं गुमनाम 

गुमनाम हूँ जहां आराम है वहीँ

है नाम बड़ा जिसका नाम ही नहीं.

न दिल चाहिए न दर्द चाहिए......

कितना आसान है रुला देना किसी को

मुश्किल है ये कितना भुला देना किसी को

हूँ अँधेरे में कब से सवेरा चाहिए

सवेरा चाहिए न अँधेरा चाहिए

न ज़िन्दगी हमें और ज़र्द चाहिए

न दिल चाहिए न दर्द चाहिए

न आहें हमें और सर्द चाहिए....

commented by
well expressed...
commented by
thank you sir. u can listen to the song here
commented by
Very nice Santosh :) :) :)
commented by
thanks a lot tushar!!

Related posts

+2 votes
0 replies 33 views
+4 votes
0 replies 35 views
+4 votes
0 replies 31 views
+8 votes
0 replies 60 views
+3 votes
0 replies 37 views
+2 votes
0 replies 29 views
+3 votes
0 replies 21 views
+3 votes
0 replies 20 views
+4 votes
0 replies 22 views
Connect with us:
...